You are currently viewing Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram | श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्

Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram | श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्

Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram

  ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् | 

 उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात् ||

Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram, …. What is Mahamrityunjaya Shiva Yantram?

And What will happen by keeping it in your homes?

Where should we put Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram?

When to chant it?

Mahamrityunjaya is that miraculous that one can even come out from the well of death,

This mantra has been told in different Vedas and Puranas for centuries. Many also worship it. The mere worship of the Mahamrityunjaya mantra gives a person that much power that no one can even guess about it.

According to the shastras, the one who is facing frequent losses of money, panics quickly, fears, or someone has been suffering from epidemics or other types of diseases like cholera, plague, and all. for many days, clashes of family members are seen, money…just got stuck somewhere, just we see tribulation and tribulation and the fight from the close ones has now become common.
keeping Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram in your homes, factory, or office, will help you get wealth, fame, wisdom, longevity, and so on. With the help of Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram, not only we see an augment of powers in our life. but we also see many changes like positivism in life, and a new and unique kind of energy is to be seen in the person.

Shri Mahamrityunjaya Shiva Yantram will help you to Relieves all types of physical and mental troubles.

Keeping the yantra in the east will give a double benefit.

श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् | 

 उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात् ||

श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम् ,….  क्या है महामृत्युंजय शिव यन्त्रम् ? 

क्या हो जाएगा इसे अपने घर में रखने से ?  

कहा स्थापित करना चाहिए … श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम् ? 

कब – कब करे इसका जाप? 

मरते – मरते को भी जिंदा  कर दे वो ही है महामृत्युंजय।  अकाल मृत्यु के कुँए से भी बहार निकाल सकता है इतना चमत्कारी है महामृत्युंजय ।   

इस मंत्र के बारे में   सदियों से  काफी  अलग-अलग वेदों और पुराणों में इसका  वर्णन किया गया है। मंत्र के साथ कई लोग महामृत्युंजय यंत्र की पूजा भी करते हैं। महामृत्युजंय मंत्र की आराधना करने मात्र से ही व्यक्ति को इतनी   शक्ति मिलती है की कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता।  

हमारे ज्योतिष विद्या एंव पुराणों के अनुसार बार – बार धन-हानि होना ,  बात – बात पर घबरा जाना , डर जाना,  या कोई कई दिनों से  हैजा-प्लेग आदि जैसे महामारी या अन्य प्रकार के  महारोगो  से पीड़ित है , फंसे हुए पैसे ,  घर – परिवार में बात – बात पर लड़ाई – झगडे देखने को मिलते है ,  क्लेश ही  क्लेश होते है और घर – परिवार में लड़ाई – झगड़ा देखना अब तो  जैसे आम बात हो गयी है।   

श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्  को  अपने घर – परिवार , फैक्ट्री , दफ्तर , आदि में रखने मात्र से ही धन, यश, बुद्धि, विद्या , दीर्घायु , सम्पदा , संपत्ति आदि की प्राप्ति होगी। श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्  की मदद से जीवनी शक्ति तो बढ़ती ही है साथ ही   जीवन में सकारात्मकता और व्यक्ति में एक नई  और अनोखी किस्म की ऊर्जा उत्पन होती है।  
  समस्त प्रकार के शारीरिक एवं मानसिक कष्टों से भी छुटकारा दिलाता है ,  श्री महामृत्युंजय शिव यन्त्रम्
पूर्व दिशा में इस यन्त्र को रखने से   दोगुना  फायदा   मिलेगा।   

Leave a Reply